You'll also like

मेरे अन्य ब्लॉग

सोमवार, 31 जनवरी 2011

भवाली में बनेगा मॉडल आयुष ग्राम


सेनिटोरियम की जमीन बेचने का सवाल ही नहीं, सरकार की मंशा साफ : भट्ट कहा, कांग्रेस को बोलने का नैतिक हक नहीं
नैनीताल (एसएनबी)। प्रदेश के स्वास्थ्य सलाहकार समिति अध्यक्ष एवं वरिष्ठ भाजपा नेता अजय भट्ट ने कहा कि भवाली में केरल की तर्ज पर मॉडल आयुष ग्राम बनाया जा रहा है। बाद में इसी तरह देहरादून, टिहरी व मसूरी में भी आयुष ग्राम बनाने की योजना है। साफ किया कि इसके लिए सेनिटोरियम की इंच भर जमीन भी बेची नहीं जा रही, वरन आयुष ग्राम का निर्माण पीपीपी व बीओटी पद्धति पर देश की नामी इमामी कंपनी से जमीन को 35 वर्ष की लीज पर देकर कराया जा रहा है। कंपनी सरकार को इस एवज में ढाई करोड़ व हर वर्ष 6.22 फीसद लाभांश देगी व लीज के आखिर में सब कुछ सरकार को सौंपकर चली जाएगी। श्री भट्ट सोमवार को नैनीताल क्लब में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने साफ किया कि आयुष ग्राम सेनिटोरियम की 10 एकड़ से भी कम अनुपयुक्त पड़ी भूमि पर स्थापित किया जा रहा है। इसमें से 0.047 हेक्टेयर भूमि वन विभाग से ली जा रही है। मालूम हो कि भवाली में 1912 में 220 एकड़ भूमि पर टीवी के उपचारार्थ 320 बेड का सेनिटोरियम स्थापित हुआ था। भट्ट ने बताया कि भवाली में आयुष अर्थात आयुव्रेद, योग, यूनानी, सिद्धा व होम्योपैथी विधाओं से संपूर्ण उपचार किया जाएगा। स्थानीय ग्रामीणों को जड़ी-बूटियां एवं गो-दुग्ध, गो-घृत व गोमूत्र लेकर लाभ पहुंचाया जाएगा। अनुबंध के अनुसार इमामी यहां आने वाले देशी-विदेशी सैलानियों के लिए थ्री-स्टार होटल का निर्माण भी करेगी। यह संपूर्ण प्रक्रिया खुली बहस के बाद और खुली प्रक्रिया के तहत की गई है। दर्जनों उद्यान उनमें पैदा होने वाली घास से भी कम कीमत पर देने वाली कांग्रेस पार्टी को इस मुद्दे पर बोलने का कोई नैतिक हक नहीं है। उन्होंने शशि थरूर, सुरेश कलमाड़ी व ए राजा आदि केंद्रीय मंत्रियों और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद बदले जाने के मुद्दे पर कहा कि भाजपा द्वारा मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाए जाने के फलस्वरूप पूरी तरह फंसने के बाद इन्हें हटाया गया। यह पर्याप्त नहीं है, वरन उन्हें सींखचों के पीछे होना चाहिए।
एक टिप्पणी भेजें